URL क्या है URL कैसे काम करता है ?

Hello Friends Tech Gyan In Hindi मे आपका स्वागत है मेरा नाम है गणेश कुमार इस Post मे आप URL क्या है URL कैसे काम करता है ? के बारे में जानेंगेURL क्या है URL कैसे काम करता हैअगर आप Internet का इस्तेमाल करते है तो आपने URL के बारे मे तो सुना ही होगा अगर आपको URL के बारे कोई जानकारी नहीं है हम आपको इस Post मे आज URL के बारे मे पूरी जानकारी देने वाले है जैसेकि URL क्या है ?URL कैसे काम करता है ? URL के कितने भाग होते है URL कितने प्रकार के होते है आदि के बारे हम आपको इस Post मे बताने वाले है

URL क्या है ?

URL का Full Form (Uniform Resource Locator) होता है URL Internet पर मौजूद सभी Websites और Webpages का Address होता है जैसेकि जिस प्रकार आपके घर का Address होता है और उसी Address के जरिये कोई व्यक्ति आपके घर पर आ जाता है इसी प्रकार Website या Webpage का Address होता है और इसी Address के जरिये हम किसी भी Website या Webpages को Visit करते है

जिस तरह आपके Office का Address और घर का Address दोनों अलग-अलग होते है उसी प्रकार हर Website या Webpage का Address भी अलग-अलग होते है जैसेकि अगर आपको Google पर जाना है तो आपको www.Google.com पर जाना है और अगर आपको Facebook पर जाना है तो आपको www.Facebook.com पर जाना होगा

URL के कितने भाग होते है ?

हर URL के मुख्य रूप से 6 भाग होते है

  1. Protocol
  2. Separator
  3. Subdomain
  4. Domain Name
  5. Directories
  6. Resource

1.Protocol 

Protocol को URL Scheme के नाम से भी जाना जाता है Protocol Browser को बताता है कि मौजूद संसाधन को कैसे Download  करना हैं ? HTTPS सबसे प्रसिध्द Web Protocol है जो सूचना को सुरक्षित Encrypt करके Transfer करने की सुविधा प्रदान करता हैं HTTPS का Full Form (Hypertext Transfer Protocol Secure) होता है

Protocol

2.Separator

ये विशेष प्रकार के चिंह होते है जो URL के अलग-अलग एक दुसरे से अलग करने का काम करते है जैसेकि Https के बाद के URL को अलग करने करने के लिए :// का इस्तेमाल किया जाता है और अन्य स्थानों पर /का उपयोग किया जाता है

URL क्या है URL कैसे काम करता है
Separator

Note :- RFC 1738 की सिफारिशों के अनुसार URL में केवल Alphabets, Numbers के अलावा ! $ – _ + * () चिन्ह ही इस्तेमाल किये जा सकते हैं अन्य चिन्ह इस्तेमाल करने से पहले उन्हे Encode करना होगा

3.Subdomain

URL में WWW सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाला Subdomain है Technology के रुप में इसकी कोई जरूरत नहीं होती हैं और यह Optional हैं इसके बिना भी सूचना प्राप्त की जा सकती है मगर, इसकी आदत होने के कारण इसका प्रचलन बरकरार है और बिना www का URL सीधा WWW URL पर Redirect कर दिया जाता हैं

URL क्या है URL कैसे काम करता है
Subdomain

Note :- Browser के Search Box में जाकर http://techgyaninhindi.com लिखकर Search करें और Notice करें कि आपके समने कौन सा URL Open  हो रह हैं? अगर आप ध्यान देंगे आपके सामने https://www.techgyaninhind.com खुल जायेगा

4.Domain Name

Domain Name एक Name होता है जो कि हमारे Website या Blog की पहचान होती है Internet की भाषा मे यह एक Address होता है इस Address की मदद से लोग आपकी Website या Blog को पहचान पाएंगे और आपकी Blog या Website को देख सकेंगे

URL क्या है URL कैसे काम करता है
Domain Name

Read Also :- Domain Name क्या है यह कितने प्रकार के होते है ?

5.Directories

एक Website को कई हिस्सों में विभाजित किया जा सकता हैं एक हिस्से को आप एक घर में विशिष्ट कमरा मान सकते हैं जो केवल किसी विशिष्ट इंसान या काम के लिए उपयोग होता हैं इसी तरह एक प्रकार की जानकारी को एक जगह रखा जाता है ताकि ढूढ़ने में आसानी रहें

6.Resource

यह वास्तविक संसाधन है जिसे Server पर सुरक्षित रखा गया है इसे Webpage भी कहते हैं यहीं वो File, Photo, Video,Songs होता है जिसे आप ढू‌ढते हैं.File Name के आगे File extension भी लिखा रहता है जो बताता है कि यह किस प्रकार की File है? .html, .htm, .php, .asp, .cgi, .xml, .jpg, .png आदि लोकप्रिय File extension है

URL का आविष्कार किसने किया ?

URL का आविष्कार बेर्नेर्स ली ने 1994 में किया था ली ने Http, Html और URL का अविष्कार एक साथ किया था

URL कितने प्रकार के होते है ?

URL मुख्य रूप से 3 प्रकार के होते है

  1. Massy URL
  2. Dynamic URL
  3. Static URL

1.Massy URL

ये URL Computer द्वारा बनाये जाते है इनमे बहुत ही अधिक Number और Letter का उपयोग होता है इन्हें एक ही Domain Name के लिए अलग अलग Web Pages बनाये जाते है

2.Dynamic URL

ये Url किसी Content का Output प्रदान करते है इन URL में +,=,%,$,&,?आदि Character आते है इनका उपयोग Shopping और Travelling जैसी Websites में होता है जहाँ User बार-बार अपनी Query बदलते रहते है

3.Static URL

इनके नाम से ही आप समझ सकते है कि ये Static होते है कभी बदलते नहीं है चाहे User द्वारा कुछ भी Request की जाये इन URL को Webpage’s Html द्वाराHard Wire किया गया होता है

URL कैसे काम करता है ?

Internet पर मौजूद  प्रत्येक Website का एक Unique IP Address (Internet Protocol) होता है। जो की Numerical होता है।जब हम किसी भी URL को Browser में Search करते है तो Browser उस Url को DNS की मदद से IP Address में बदल देता है और उस Website के Server पर पहुँच जाता है और वहाँ से सुचना हमे Provide करता है

Read Also :- IP Address क्या है IP Address कितने प्रकार के होते है ?

लेकिन IP Address याद रखना बहुत ही मुश्किल होने के कारण DNS System का उपयोग किया गया। जिससे हम किसी भी Website तक बहुत ही आसानी से पहुँच सकते है जैसे- Google.com, yahoo.com, Bing.com, Amazone.com, Flipkart.com का Ip Address 216.58.194.206., 98.138.219.232., 13.107.21.200., 87.238.85.156. ,199.59.242.153. है

Read Also:- Computer मे से Virus को कैसे Delete करें ?

Read Also:-Web Hosting क्या है यह कितने प्रकार की होती है ?

Conclusion :-

हम उम्मीद करते है कि आपको URL क्या है URL कैसे काम करता है ? की जानकारी आपको पसंद आई होगी आप हमारे इस Post को अपने Friends और Social Media पर Share करके आप हमारा और हमारी Team का मनोबल बढ़ा सकते है इस Artical से Related अगर आपके मन में कोई सवाल है तो नीचे Comment Box में पूंछ सकते है

1 COMMENT

  1. You really make it seem so easy with your presentation but I find this topic to
    be really something that I think I would never understand.
    It seems too complicated and very broad
    for me. I am looking forward for your next post, I’ll try to get the hang of it!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here