NavIC क्या है NavIC कैसे काम करता है ?

Hello Friends Tech Gyan In Hindi मे आपका स्वागत है मेरा नाम है गणेश कुमार इस Post मे आप NavIC क्या है NavIC कैसे काम करता है ? के बारे मे जानेगेंNavIC क्या है NavIC कैसे काम करता हैNavIC भारत का Navigation System है आप NavIC को भारत का GPS भी कह सकते है Navigation System की जरुरत बहुत कामो के लिए देश को होती है Navigation System का उपयोग ज्यादातर देश की सुरक्षा के लिए किया जाता है और आज Navigation System देश के हर व्यक्ति की जरुरत बन चुका है

क्या आपको पता है कारगिल युध्द मे जब पाकिस्तान ने धोखे से कारगिल की पहाड़ी पर कब्ज़ा कर लिया था तो भारत ने अमेरिका से GPS का Access माँगा था ताकि पाकिस्तान के सैनिकों की Real Location का पता लग सके लेकिन इसके लिए अमेरिका ने मना कर दिया था आम जनता के लिए जो GPS Access होता है वो थोडा पुराना और Sefty Purpose के लिए होता है

लेकिन Army के पास जो Access होता है वो 99.99% Accurate और Latest होता है कारगिल युध्द में अगर अमेरिका हमको GPS का Access दे देता तो वह युध्द कुछ ही समय में समाप्त हो जाता और हमारे वीर जवानो को अपनी जान नहीं गवानी पड़ती इससे प्रेरणा लेकर ISARO ने अपने खुद के Navigation System पर काम करना शुरू कर दिया

Read Also :- Google Maps क्या है Google Maps को कैसे Use करें ?

NavIC क्या है ?

NavIC का Full Form (Navigation with Indian Constellation) है यह IRNSS ( Independent Regional Navigation Satellite System) Operational नाम है IRNSS भारत के जरिये विकसित एक स्वंतंत्र भारतीय Navigation System है IRNSS भारत मे अपने उपयोगकर्ताओ को सटीक सूचना प्रदान करता है

IRNSS ने NavIC को भी विशेष रूप से भारत और उसके आस पास के क्षेत्रों (भारत के आस पास 1500 किलोमीटर) पर देख रेख के लिए Design किया है NavIC भारत के लिए एक बहुत बड़ी उपलब्धि है IRNSS भारत को 2 प्रकार की सेवाए प्रदान करेगा

  1. SPS (Standard Positioning Service)
  2. RS (Restricted Service)

1.SPS (Standard Positioning Service)

SPS की सुविधा सभी उपयोगकर्ताओ को Provide करायी जाती है

2.RS (Restricted Service )

RS एक Encrypted Service है जो केवल Authorized Users को को Provide करायी जाती है RS ,SPS के मुकाबले कंहीं ज्यादा बेहतर है RS की Accuracy (1 से 5 मीटर की Range है

NavIC के कितने Satellites है ?

NavIC के वर्तमान मे 9 Satellites है

  1. IRNSS-1A
  2. IRNSS-1B
  3. IRNSS-1C
  4. IRNSS-1D
  5. IRNSS-1E
  6. IRNSS-1F
  7. IRNSS-1G
  8. IRNSS-1H
  9. IRNSS-1I

1.IRNSS -1A

IRNSS-1A IRNSS का पहला Satellite है IRNSS-1A को 1 जुलाई 2013 को जियोसिंक्रोनस कक्षा रखा गया है IRNSS-1A को बनाने के लिए 1.25 अरब का खर्चा आया था IRNSS-1A Satellit में दो Payload होते हैं Navigation Payload And Ranging Payload IRNSS-1A का जीवन काल 10 वर्ष का है

2.IRNSS-1B

IRNSS-1B IRNSS का दूसरा Satellite है IRNSS-1B को 4 अप्रैल 2014 जियोसिंक्रोनस कक्षा रखा गया था IRNSS-1B का उपयोग नौसैनिक सेवाएं प्रदान करने के लिए किया जाता है IRNSS-1B Satellit मे भी दो Payload होते हैं Navigation Payload And Ranging Payload IRNSS-1B का जीवन काल 10 वर्ष का है

3.IRNSS-C

IRNSS-1C  IRNSS का तीसरा Satellite है IRNSS-1C को 15 अक्टूबर 2014 को PSLV-C26 द्वारा Launch किया गया था IRNSS-1C  Satellit मे भी दो Payload होते हैं Navigation Payload And Ranging Payload IRNSS-1C  का जीवन काल 10 वर्ष का है

4.IRNSS-1D

IRNSS1-D IRNSS का चौथा Satellite है IRNSS-1D को 28 मार्च 2015 को PSLV-C27 द्वारा Launch किया गया था IRNSS-1D  को बनाने के लिए 14 अरब का खर्चा आया था IRNSS-1D Satellit मे भी दो Payload होते हैं Navigation Payload And CDMA Payload IRNSS-1D  का जीवन काल 10 वर्ष का है

5.IRNSS-1E

IRNSS-1E IRNSS का पांचवा Satellite है IRNSS-1E को 20 जनबरी 2016 को Launch किया गया था IRNSS-1E मे 2 Paylod होते है Navigation Payload And CDMA Payload IRNSS-1D  का जीवन काल 12 वर्ष का है

6.IRNSS-1F

IRNSS-1F IRNSS का छटवां Satellite है IRNSS-1F को 10 March 2016 को PSLV-XL C32 के जरिये Launch किया गया था IRNSS-1F का जीवन काल 12 वर्ष का है

7.IRNSS-1G

IRNSS-1G IRNSS का सातवाँ Satellite है IRNSS-1G को 28 अप्रैल 2016 को FLP Launch Pad के जरिये Launch किया गया था

8.IRNSS-1H

IRNSS1-H IRNSS का आठवां Satellite है IRNSS1-H को 31 अगस्त 2017 को  PSLV-C39 के जरिये Launch किया गया था

9.IRNSS-1I

IRNSS-1I IRNSS का नौवां Satellite है IRNSS-1I को 12 April 2018 को  URSC की निगरानी में Launch किया गया है IRNSS-1I आठवें Satellite के रूप में गिना जा रहा है क्योंकि IRNSS – 1I एक आठवां Satellite है जिसने IRNSS तारामंडल में सफलतापूर्वक लॉन्च किया है

Payload क्या है ?

Payload एक Aeroplane या Launch Vehicle की  क्षमता है जिसे आमतौर पर वजन केलिए मापा जाता है उड़ान या मिशन की प्रकृति के आधार पर एक वाहन के Payload में कार्गो यात्री Flight Crew  Profits Scientific Instruments आदि शामिल हो सकते हैं इसके आलावा Payload से ईंधन को भी  ले जाया जाता है ये Payload का हिस्सा भी माना जाता है यानी Airline And Air Freight Carrier में Payload केवल Revenue पैदा करने वाले कार्गो या भुगतान करने वाले यात्रियों को संदर्भित कर सकता है

NavIc Mobile मे कैसे काम करता है ?

NavIC का Use करने के लिए User को NavIC Support Mobile Phone लेना होगा हाल ही मे Qualcomm ने Mid-Range SmartPhone के लिए 3 नये Processers को Launch किया है इनमे से एक Processers Redmi और एक Realme के Mobile Phone मे आपको देखने को मिलेगा जो NavIC का पूरी तरह से Support करेगा

ये Processers Dual Frequency -L1(1l 58 Ghz) L5(1l 71Ghz) यानि GNGR (Global Navigation Satellite System) को Support करता है इन Processers को खास NavIC के लिए Design किया गया है जब Smart Phone में Dual Frequency का उपयोग किया जाता है तो आप Multy Path Error से बच सकते है

आप अपने Mobile Phone में Dual Frequency Check करने के लिए GPST-East नाम App का Use कर सकते है कुछ Processers जैसे Kirin 990, Qualcomm 855, आदि Dual Frequency को Support करते है फ़िलहाल ये पता नहीं है कि SmartPhone Maker Compny इन Phones मे Update के जरिये NavIC का Support देंगी या नहीं

NavIC भारत और उसके आसपास के 1500 Km.के क्षेत्र को Cover करेगा NavIC का उपयोग तंग गलियों,भीडभाड वाले इलाकों ,और Delivery सेवाओ के लिए Ride-Helling Apps के जरिये आप NavIC का उपयोग बड़ी कुशलता से कर सकते है

NavIC और GPS मे अंतर

NavIC और GPS मे कुछ खास अंतर नहीं है

GPS

  1. US की सरकार के जरिये GPS के पास 33 Satellite है जो पुरानी है लेकिन US की सरकार समय के साथ इन Satellite को नयी Satellite से बदल रहा है
  2. GPS एक Global Position System है
  3. आम लोगो के लिए GPS की Accuracy 20 मीटर है

NavIC

  1. Navic के पास 9 Satellite है जिनमे से 2 Fail है यानि की Navic के पास 7 Satellite है ISARO इसमे और Satellite जोड़ने की कोशिश करेगा ये 7 Satellite Only भारत के लिए ही है
  2. NavIC केवल भारत और भारत के पड़ोसी देशो में काम करता है NavIC की Coverage पड़ोसी देशों के मुकाबले कहीं बेहतर है
  3. आम लोगो के लिए NavIC  की Accuracy भी 20 मीटर है

Read Also:-Computer मे से Virus को कैसे Delete करें ?

Read Also:- VPN क्या है VPN कैसे Use करें ?

Conclusion

NavIC और GPS दोनों मे आपको Standrd Users के लिए इनकी Accuracy 20 मीटर होगी हालाँकि Cellular का उपयोग करके दोनों की Accuracy को 10 मीटर तक किया जा सकता है

हम उम्मीद करते है कि आपको NavIC क्या है NavIC कैसे काम करता है ? की जानकारी आपको पसंद आई होगी आप हमारे इस Post को अपने Friends और Social Media पर Share करके आप हमारा और हमारी Team का मनोबल बढ़ा सकते है इस Artical से Related अगर आपके मन में कोई सवाल है तो नीचे Comment Box में पूंछ सकते है

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here