Cloud Computing क्या है यह कैसे काम करता है ?

Hello Friends Tech Gyan In Hindi में आपका स्वागत है मेरा नाम है गणेश कुमार इस Post में आप Cloud Computing क्या है यह कैसे काम करता है ? के बारे में जानेंगे

Cloud Computing क्या है यह कैसे काम करता है

आज कल Mobile और Computer Users की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है इसलिए Storage को सभी क्षेत्रों में First Prayority दी जाती है चाहे व्यापार छोटा हो या बड़ा सब पैसा खर्च करते है इसके इसमे IT Support और बहुत बड़े Storage Hub की जरुरत पड़ती है जो हर कोई Afford नहीं कर पाता है और इसका खर्चा भी बहुत आता है

इसलिए अपने खर्चे को कम करने के लिए ज्यादातर लोग Cloud Computing का इस्तेमाल करते है क्योंकि Cloud Computing बहुत अच्छा ,सस्ता और सुरक्षित विकल्प है आसान तरीकों से Cloud Computing में Data को सही तरीके से सुरक्षित रखा जाता है इसी कारण से बड़े-बड़े व्यापार भी Cloud Computing को Use करने लगे है

Cloud Computing के User को बहुत ही कम Hardware और Software की जरुरत पड़ती है Cloud Computing का उपयोग करने के लिए User को Cloud Computing System और Interface Software को उपयोग करना आना चाहिए जो कि Web Browsing को चलाने जितना आसान है बाकी का काम Cloud Network करता है

Cloud Computing क्या है ?

आज अगर आप Internet पर कोई भी File Upload करते है और उसका कहीं दूसरी जगह इस्तेमाल कर सकते है यानि कि आज अगर आपने अपने Computer से किसी Internet पर Upload किया है और अगर आप कहीं बाहर गए हुए है और आप उस File को अपने Mobile से Access कर पा रहें है इसी को Cloud Computing कहते है

जब आप अपने Computer में कोई File Save करते है या कोई किसी प्रकार की File बनाते है तो वो आपकी Computer की HardDisk में Store होती है अगर आपको उस File को कहीं ले जाना होता है तो आप उसको किसी Pendrive या External HardDisk लगाकर उस Data को Copy करते है और उसके बाद आप उसको कहीं ले जा पाते है

लेकिन इस सब में आपको Hardware की जरुरत होती है लेकिन आप Cloud Computing का उपयोग करके किसी भी प्रकार की Pendrive या Harddisk में अपने Data को Copy करने की जरुरत नहीं है अपनी File को Access करने के लिए आपको बस Internet की जरुरत है

अगर आपके पास Internet है तो आप अपने Data को Google Drive और Drop Box जैसे Services में अपने Data को Upload कर सकते है और Internet की मदद से ही आप इन Files को कहीं भी देख सकते है और इनका Use अपने Mobile कर सकते है Cloud Computing में आप किसी भी प्रकार की Files को Upload कर सकते है

Cloud Computing कैसे काम करता  है ?

अब तक तो आपकी समझ ही गए होंगे कि Cloud Computing क्या है अब हम आपको Cloud Computing कैसे काम करता है इसके बारे में बताने वाले है दोस्तों Google और Microsoft जैसे बड़ी-बड़ी Compnies ने सभी जगह Server लगाए हुए है और Server में बहुत सारी HardDisk होती है और Cloud Computing में एक Server एक छोटे से शहर के बराबर का भी हो सकता है

उस Server में इतना सारा Data Store किया जा सकता है जिसकी आप कल्पना भी नहीं कर सकते है और उस Data को आप Networking की मदद से अपने Mobile में कहीं भी Access कर सकते है उदहारण के लिए आप Google Drive को ही ले लीजिये आप अपने Computer से Google Drive में किसी File को Upload कर सकते है और Mobile या किसी दुसरे Computer में अपने Account से Login करके Use कर सकते है

Cloud Computing कितने प्रकार की होती है ?

Cloud Computing मुख्य रूप से 4 प्रकार की होती है और User अपने Business के हिसाब से Model Subscribe कर सकता है

  1. Private Cloud Computing
  2. Public Cloud Computing
  3. Community Cloud Computing
  4. Hybrid Cloud Computing

1.Private Cloud Computing 

Private Cloud Computing का उपयोग किसी एक Compny के लिए किया जाता है और इसका Access Compny के पास ही होता है इसका इस्तेमाल Compny के आलावा कोई भी नहीं कर सकता क्योंकि इसका सारा Control Data के ऊपर होता है और इससे Data Breach होने की आशंका बहुत कम होती है

Read Also :- Ransomware Virus क्या है इससे कैसे बचें ?

2.Public Cloud Computing 

Public Cloud Computing का उपयोग हर कोई कर सकता है क्योंकि इसको दुसरे Service Provider Host करते है Public Cloud Computing में User का कुछ भी Control नहीं होता और ना ही वो अपने Infrastructure को देख सकते है उदहारण के लिए आप Google और Microsoft को ले सकते है ये दोनों खुद ही अपना Infrastructure Run करते है और बाद में इसका Access Public को दे देते है

3.Community Cloud Computing 

ये एक Multy Tenent Cloud Infrastructure होता है इस उपयोग Cloud को दुसरे Community और Organization के बीच Share करने के लिए किया जाता है

4.Hybrid Cloud Computing 

Hybrid Cloud Computing (Private ,Public और Community ) तीनों का Combination होती है यहाँ पर हर एक Cloud Single Entry के रूप में रहता है और इसका उपयोग B2C (Business to Consumer ) और B2B (Business to Business) दोनों ही कर सकते है

Cloud Computing के लाभ 

Cloud Computing में कम लागत होने के कारण बहुत सारी Business Organization इसका Use करती है User अपनी आवश्यकता के अनुसार इसका उपयोग करता है और अपनी आवश्यकता के अनुसार ही उपयोग के पैसे Pay करता है Cloud Computing को Use करने के निम्नलिखित फायदे है

  1. IT Infrastructure की कम लागत
  2. कम Computer Hardware और Software की आवश्यकता
  3. Best Performance
  4. Maintenance की कम Problem
  5. Minium Maintenance लागत
  6. Software Update करने में आसानी
  7. BackUp और Recovery में आसानी
  8. Data की अच्छी Security

Cloud Computing की Services 

Cloud Computing मुख्य रूप से 3 Services Provide करता है

  1. SaaS (Software as a Servic)
  2. PaaS  (Platform as a Service)
  3. IaaS (Infrastructure as a Service)

1.SaaS (Software as a Servic)

SaaS (Software as a Servic) Cloud Computing का “Software Service Distribution” Model है Service Provider या Vendar के जरिये Applications को Host किया जाता है और इसे Internet पर Customers के लिए उपलब्ध कराया जाता है

अगर बात करें Data को Store करने के पुराने तरीकों की User को अपने Data को Store करने के लिए Software को Buy करना पड़ता था और उसे अपने Computer में Install करना पड़ता था लेकिन इस Model में Use आसानी से मासिक आधार पर Cloud Computing Service को Subscribe करके इस Service का लाभ उठा सकता है

2.PaaS  (Platform as a Service)

PaaS  (Platform as a Service) Developer को एक ऐसा Platform प्रदान करता है जहाँ पर वो Application Build कर सकते है इस Service को Cloud में भी Host किया जा सकता है और Internet के जरिये User इसको कहीं से भी Access कर सकता है

उदहारण के लिए आप एक Student और Teacher को ले सकते है जिस प्रकार Teacher Student को Drawing के लिए Paint,Brush और Painting Papper देता है Student को बस Drawing करनी होती है उसी प्रकार PaaS  (Platform as a Service) User को कई तरह के Tools के साथ एक Platform प्रदान किया जाता है

यहाँ पर User को समय-समय पर नये-नये Feature दिए जाते है जिनका उपयोग करके वो Application Develope कर सकते है ये एक ऐसा Platform है जो Application Developement को Support करता है इस लिए ये Web Developer,Software Developer,और अन्य Bussiness आदि के लिए फायदेमन्द है

3.IaaS (Infrastructure as a Service)

PaaS के आलावा IaaS (Infrastructure as a Service) Cloud Computing की एक Fundamental Service है इस Service में User Cloud Computing Resources को Virtual तरीके के Internet पर Access कर सकता है इस Service में Network आमतौर पर Free Data Centers में विभाजित किए जाते है

ये विभिन्न प्रकार के Service जैसे Virtula Space Server ,Network Connection ,Bandwidth ,Load Balancers और IP Addressess प्रदान करता है इसमे Hardware Resources में भी बहुत सारे Server काम करते है IaaS (Infrastructure as a Service) Cloud Computing एक Package है

Note :- 
  1. Cloud Computing अधिक मात्रा में Data को सुरक्षित रखा जाता है
  2. Cloud Computing में User को बहुत कम Hardware और Software की जरुरत पड़ती है
  3. Google ,Facebook Amazon आदि Cloud Computing Service प्रदान करते है
  4. Cloud Computing में HTTP ,XML, Ruby ,PHP आदि का इस्तेमाल किया जाता है
  5. Cloud Computing को User अपने Computer और Laptop से बाड़ी आसानी से Connect कर सकता है

Read Also :- VPN क्या है VPN कैसे Use करें ?

Read Also :- IP Address क्या है IP Address कितने प्रकार के होते है ?

Conclusion:-

हम उम्मीद करते है कि आपको Cloud Computing क्या है यह कैसे काम करता है ? की जानकारी आपको पसंद आई होगी आप हमारे इस Post को अपने Friends,Family और Relatives के साथ Share करके आप हमारा और हमारी Tech Gyan In Hindi Team का मनोबल बढ़ा सकते है अगर आपके मन में कोई सवाल है तो नीचे Comment Box में पूंछ सकते है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here